Sunday, 10 January 2016

चेक करण का

हरियाणवी छोरा छोरी को आँख मारता है.
छोरी-मै एसी वैसी लडकी ना हू
छोरा -कोए बात ना बेबे माहारा तो फर्ज बन था चेक करण का

No comments:

Post a Comment